जमशेदपुर के अजिताभ ने बनाया सबसे छोटी प्रेम कहानी लिखने का विश्व रिकॉर्ड


“अगर किसी चीज़ को दिल से चाहो तो फिर सारी कायनात उसे तुमसे मिलाने में लग जाती है”, शाहरुख खान का यह प्रसिद्ध डायलॉग आप सभी ने जरूर सुना होगा। कुछ ऐसा ही महसूस किया जमशेदपुर के टेल्को निवासी अजिताभ बोस ने। स्कूल के दिनों से ही शाहरुख खान के धुर प्रशंसक रहे अजिताभ की लिखी प्रेम कहानी “इन लव विद शाहरुख खान” (In love with Shahrukh Khan) पिछले महीने दिल्ली में लॉंच हुई। इस पुस्तक के माध्यम से अजिताभ ने विश्व की सबसे छोटा प्रेम कहानी लिखने का वर्ल्ड रिकॉर्ड बनाया है।

image

“इन लव विद शाहरुख खान” है विश्व की सबसे छोटी प्रेम कहानी :
अजिताभ बोस लिखित “इन लव विद शाहरुख खान” (In love with Shahrukh Khan) अपनी तरह की अनोखी किताब है। यह मात्र 2.5” x 4.0” आकार का है, वही किताब में मात्र 50 पृष्ठ है। कहानी अँग्रेजी भाषा में लिखी गयी है। अपने अनोखे आकार ने कारण “इन लव विद शाहरुख खान” को “ऑनलाइन वर्ल्ड रिकॉर्ड्स” में स्थान मिला है। यह किताब पिछले महीने मार्च में प्रकाशित हुई है। इस किताब को “गिनीज़ बुक ऑफ वर्ल्ड रिकॉर्ड” के लिए भी भेजा गया है।

image

शाहरुख खान के फ़ैनस की अपनी कहानी है “इन लव विद शाहरुख खान” :
“इन लव विद शाहरुख खान” शाहरुख खान के एक फ़ैन की कहानी है, शाहरुख खान से मिलना उसके जीवन का सबसे बड़ा सपना है। छोटे शहर की नायिका जो एक जानलेवा बीमारी से जूझ रही है, मरने से पहले वह किसी भी तरह से शाहरुख खान से एक बार मिलना चाहती है। अपने दोस्त के संघर्ष व समर्पण की बदौलत वह अंतत हॉस्पिटल में अपने जिंदगी के अंतिम लम्हों में शाहरुख खान ने मिलने में सफल होती है।

शाहरुख खान को भी पसंद आई “इन लव विद शाहरुख खान”:
अजिताभ लिखित “इन लव विद शाहरुख खान” को सोशल मीडिया पर बहुत ही पसंद किया जा रहा है। इसी क्रम में विश्व भर में फैले विभिन्न शाहरुख खान फ़ैन कल्बस ने शाहरुख खान पर आधारित इस विश्व की सबसे चोटी प्रेम कहानी को हाथो हाथ लिया। फ़ैन कल्बस पर हो रही चर्चा शाहरुख खान तक भी पहुंची, फिर उन्होने भी अपने ऑफिसियल ट्विटर हैंडल @iamsrk से रिट्वीट करते हुये पुस्तक की सराहना की। उन्होने अपने चीर परिचित अंदाज़ में लिखा “आकार कोई मायने नहीं रखता, जब यह प्यार हो” (Size Does’t matter, when it’s love).

image

image

अजिताभ बताते है कि “खुद शाहरुख खान ने उनके प्रेम कहानी को रिट्वीट किया, जब यह मुझे पता चला, तब यह मेरे लिए सबसे बड़ी खुशी का मौका था, मुझे कुछ भी समझ नहीं आ रहा था कि मैं क्या करूँ, मेरे दोस्त और मेरे जाननेवालों कि तरफ से लगातार आती शुभकामनाएँ से मैं फुले नहीं समा रहा था।“ आगे अजिताभ बताते है कि वह भी एक युवा फिल्म निर्माता है, अपनी फिल्म के लिए शाहरुख खान को साइन करना अब मेरे जीवन का सबसे बड़ा सपना है।   

24 वर्षीय लेखक अजिताभ बोस की है 6वीं पुस्तक:
“इन लव विद शाहरुख खान” के लेखक 25 वर्षीय अजिताभ टेल्को स्थित गुलमोहर हाई स्कूल से अपनी 12वीं की पढ़ाई पूरी की। उसके बाद उन्होने इंडियन इंस्टीट्यूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीस, गाजियाबाद से मैनेजमेंट की पढ़ाई पूरी की है। वर्तमान में अजिताभ दिल्ली में “बोस डॉक्यूमेंटरी लिमिटेड” के निदेशक है, जो लघु फिल्मों एवं वीडियो अल्बम का निर्माण करती है। “इन लव विद शाहरुख खान” अजिताभ की 6वीं किताब है, इससे पहले वो “इट्स ए लव स्टोरी”, “लव इस ए स्वीट प्वायजन”, “जिंदगी”, “द अंटोल्ड स्टोरीज” एवं “द पॉकेट लव स्टोरी” लिख चुके है।
समय की कमी ने छोटी किताब लिखने को किया प्रेरित, अब इसके सिकव्ल पर भी कर रहे है काम:
अजिताभ बोस बताते है कि “आज के युवा अँग्रेजी उपन्यास पढ़ना काफी पसंद करते है। लेकिन सामान्य उपन्यास 200 पृष्ठों के लगभग होती है, जिन्हें पढ़ने में काफी सामान्य लग जाता है। आज के व्यस्त दिनचर्या में चाह कर भी व्यक्ति इन कहानियों से रूबरू नहीं हो पाता। इसी सोच से मैंने छोटी सी प्रेम कहानी लिखने का प्रयास किया। आप इसे अपने जेब में आसानी से रख सकते है, और छोटे सफर में भी समय मिलने पर इसे आसनी से पूरा पढ़ सकते है। आप घाटशिला से जमशेदपुर तक के सफर में भी आप इस पुस्तक को बड़े आराम से पढ़ सकते है। पाठक एवं प्रकाशक दोनों ने छोटी लव स्टोरी बूक को काफी पसंद किया है, अब वह इस पुस्तक के सिकव्ल पर भी काम करना शुरू कर दिया है।“ अजिताभ आगे बताते है कि “आने वाले समय में दूसरे लेखक भी इसी तर्ज पर छोटी पुस्तकें लिखे तो इससे पाठकों का काफी फायदा होगा।“ अजिताभ की किताबें फ्लिपकार्ट, अमेज़न, पुस्तक मंडी व अन्य वेबसाईट्स पर उपलब्ध है।

image

अजिताभ ने टेल्को स्थित गुलमोहर हाई स्कूल से की है अपनी पढ़ाई, माता-पिता है टेल्को निवासी :

लेखक अजिताभ के पिता श्री अमिताभ बोस टाटा मोटर्स के पूर्व कर्मचारी है, वही श्रीमती मीना बोस गृहणी है। अजिताभ बोस ने अपनी पढ़ाई टेल्को स्थित गुलमोहर हाई स्कूल से पूरी की है। अजिताभ की इस सफलता पर उनके माता-पिता के साथ-साथ विद्यालय के शिक्षकगण भी काफी गर्वान्वित है, अजिताभ अब गुलमोहर हाई स्कूल के छात्र-छात्राओं के लिए प्रेरणा बन गए है।  

शाहरुख खान से मिलना कहानी की नायिका आन्या का था सपना, आन्या की मौत से ठीक पहले भिवान करता है आन्या का सपना पूरा :
कहानी का नायक भिवान दिल्ली के एक प्रमुख कॉलेज से पत्रकारिता कि पढ़ाई कर रहा होता है। वह एक सामान्य छात्र है, लेकिन वह फोटोग्राफी का बहुत शौक रखता है। उसके फोटोग्राफी में रुचि व बेहतर प्रदर्शन की बदौलत उसे कॉलेज की तरफ से आगे की पढ़ाई मुंबई जाकर पूरी करने के लिए चुना जाता है। कॉलेज का प्रतिधित्व करते हुये वह प्रतियोगिता में बेहतर प्रदर्शन करता है, और डॉक्यूमेंटरी में पुरस्कार प्राप्त करता है।
इसी क्रम में वह अपने डॉक्यूमेंटरी दल की सहयोगी आन्या के प्यार में पड़ जाता है। आन्या शाहरुख खान की बहुत बड़ी प्रशंशक होती है। सब कुछ बेहतर चल रहा होता है, तभी कॉलेज के आखिरी दिन आन्या अचानक से कही गायब हो जाती है, पत्र के माध्यम से भिवान को पता चलता है कि वह एक जानलेवा बीमारी से ग्रसित है, वह अब उससे कभी दुबारा नहीं मिलेगी, लेकिन वह उसे हमेशा चाहती रहेगी।
भिवान काफी मशक्कत कर उसके घर का पता मालूम करता है, और उससे मिलने उसके गृहनगर जमशेदपुर पहुँचता है। जमशेदपुर में वह उसके घरवालों से मिलता है, उसकी बीमारी के बाद भी वह आन्या से शादी कर उसे मुंबई ले आता है । आन्या का शाहरुख खान से मिलना जीवन का सबसे बड़ा सपना होता है। भिवान आन्या की सभी खवाइशें पूरी करता है, लेकिन शाहरुख खान से आन्या की मुलाक़ात अभी भी सपना ही रहता है। तभी आन्या की तबीयत काफी बिगड़ जाती है, उसे इलाज़ के लिए हॉस्पिटल में भर्ती करवाया जाता है। इसी बीच भिवान आन्या के इलाज़ के साथ-साथ शाहरुख खान के मुंबई स्थित आवास मन्नत पर भी कई दिनों तक उनसे मिलकर आन्या के सपने के बारे में बतलाने की कोशिश करता है। आखिरकार भिवान की मेहनत रंग लाती है, फिर शाहरुख खान खुद हॉस्पिटल जाकर आन्या से मिलते है।
फिर कुछ दिनो बाद ही आन्या का निधन हो जाता है। आन्या के माता-पिता भिवान को दूसरी शादी करने का दबाब बनाते है। लेकिन भिवान राजी नहीं होता, वह आन्या की याद में एनजीओ “आन्या ट्रस्ट” की स्थापना करता है। वहाँ वह बच्चों की देखभाल करता है, और उनके साथ शाहरुख खान की फिल्मों को देखकर आन्या के सपनों को जीता है।

रिपोर्ट : तरुण कुमार

One thought on “जमशेदपुर के अजिताभ ने बनाया सबसे छोटी प्रेम कहानी लिखने का विश्व रिकॉर्ड

What Do you think about this news?

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google+ photo

You are commenting using your Google+ account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

w

Connecting to %s