Journal-E-Jamshedpur | Chapter 2


पेश है जमशेदपुरटेन्मेंट की ख़ास पेशकश Journal-e-Jamshedpur.
इस सेगमेंट में हर शनिवार की रात कहानी का एक टुकड़ा पोस्ट होगा. जो अपने शहर की कहानी है, आपकी और हमारी कहानी है. चलिए शुरू करते हैं….

मैंने ड्रॉवर ख़ींचा और अपना पुराना फ़ोन निकाल लिया.
फ़ोन ऑन-ऑफ़ होता रहा, फिर मैंने उसी ड्रॉवर से चार्जर निकाला. मेरे बारे में कितना कुछ मैंने उस पुराने फ़ोन में छुपा रखा था – बचपन की फ़ोटोज़, स्कूल के प्रोजेक्ट्स, पुरानी लिखी कविताएं और उसकी भेजे सारे एस.एम.एस.
नया फ़ोन उतना ख़ुशनसीब कहाँ था जो उसके मेसेज का इंतज़ार करे, उस इंतज़ार से उठती टीस के मज़े ले सके, मैं ठंड में छत से साकची का नज़ारा देखूं और वो उसकी आवाज़ मेरे कानों तक पहुंचाए. ख़ैर, हमने फ़ोन बदल लिए मगर वो इंतज़ार नहीं बदला. आज भी हर बरसात में लिट्टी चौक पर एक भुट्टे को आधा कर के खाना याद आ जाता है.

IMG_20200124_133447

चूना शाह बाबा की मज़ार पर गुलाब लेकर जाना, हर गुरुपरब पर साकची घूमना और छठ पर कोसी भरना – ये सब उसके बिना कहाँ होता था.. कोई और कहाँ होता था मेरे साथ!

IMG_20200124_133431
उसका साथ होता तो लगता था हर कुछ कर सकता हूँ मैं, एक ही बार में दलमा पहाड़ लाँघ सकता हूँ, छूटती हुई ट्रेन पकड़ सकता हूँ, हाहा, क्या कुछ नहीं.
मैंने फ़ोन की बैट्री देखी, अब तक ज़रा भी चार्ज नहीं हुआ. मुझे याद है, एक बार मुझसे दोसा बनने का इंतज़ार किया नहीं जा रहा था तो उसने मुझसे कहा था कि मुझे समझना चाहिए कि किसी चीज़ को बनने में समय लग ही जाता है.

IMG_20200124_133415

कितनी आसानी से ज़िंदगी की इतनी बड़ी सीख उसने मुझे दोसे के ठेले पर दे डाली थी. दोसा, फ़ोन या वो, मैंने अबतक शायद इंतज़ार करना सीखा ही नहीं या भूल सा गया हूँ. मेरे सोने का वक़्त हो चुका था, सो उसकी दी हुई सीख और उस दिन को याद करते हुए मैंने पुराने फ़ोन की बैट्री बिना चेक किए एक ओर कर दिया और अपनी आँखें मूंद ली.
सुबह उठा तो फ़ोन पूरा चार्ज हो चुका था. उसकी दी हुई सीख काम आई, मैंने फ़ोन ऑन किया…

(आगे पढ़ने के लिए इस सेक्शन को फ़ॉलो करते रहें. मिलते हैं Journal-E-Jamshedpur के Chapter 3 में)

One thought on “Journal-E-Jamshedpur | Chapter 2

What Do you think about this news?

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Google photo

You are commenting using your Google account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s