Journal-E-Jamshedpur | Chapter 5


Journal-E-Jamshedpur के Chapter 5 को पढ़ने के लिए यहाँ  क्लिक करें. हाहा, कैसे भकलोली किया करते थे हम! हाथियों के बीच चॉकलेट कॉफ़ी. मैंने चुपके से चवन्नी मुसकी मार दी. उस शाम की बात ही कुछ और थी. उस शाम के बाद न जाने कितनी बार सूरज अस्त हुआ, लेकिन दलमा पहाड़ की उस शाम के रंग उस दिन के बाद से आज तक शायद ही … Continue reading Journal-E-Jamshedpur | Chapter 5

Journal-E-Jamshedpur | Chapter 4


 पेश है जमशेदपुरटेन्मेंट की ख़ास पेशकशJournal-e-Jamshedpur. इस सेगमेंट में हर शनिवार की रात कहानी का एक टुकड़ा पोस्ट होगा. जो अपने शहर की कहानी है, आपकी और हमारी कहानी है. चलिए शुरू करते हैं… Journal-E-Jamshedpur | Chapter 3 पढ़ने के लिए यहाँ  क्लिक करें मेहंदी की ख़ुशबू नशीली होती है क्या, या ये ख़ुशबू किसी और चीज़ की है या ये नशा कोई और सा? … Continue reading Journal-E-Jamshedpur | Chapter 4

Journal-E-Jamshedpur | Chapter 3


पेश है जमशेदपुरटेन्मेंट की ख़ास पेशकश Journal-e-Jamshedpur. इस सेगमेंट में हर शनिवार की रात कहानी का एक टुकड़ा पोस्ट होगा. जो अपने शहर की कहानी है, आपकी और हमारी कहानी है. चलिए शुरू करते हैं… Chapter 2 पढ़ने के लिए यहाँ  क्लिक करें. सुबह उठा तो फ़ोन पूरा चार्ज हो चुका था. उसकी दी हुई सीख काम आई, मैंने फ़ोन ऑन किया और गैलरी खोली. … Continue reading Journal-E-Jamshedpur | Chapter 3

Journal-E-Jamshedpur | Chapter 2


पेश है जमशेदपुरटेन्मेंट की ख़ास पेशकश Journal-e-Jamshedpur. इस सेगमेंट में हर शनिवार की रात कहानी का एक टुकड़ा पोस्ट होगा. जो अपने शहर की कहानी है, आपकी और हमारी कहानी है. चलिए शुरू करते हैं…. मैंने ड्रॉवर ख़ींचा और अपना पुराना फ़ोन निकाल लिया. फ़ोन ऑन-ऑफ़ होता रहा, फिर मैंने उसी ड्रॉवर से चार्जर निकाला. मेरे बारे में कितना कुछ मैंने उस पुराने फ़ोन में … Continue reading Journal-E-Jamshedpur | Chapter 2

Journal-e-Jamshedpur | Chapter 1


पेश है जमशेदपुरटेन्मेंट की ख़ास पेशकश Journal-e-Jamshedpur. इस सेगमेंट में हर शनिवार की रात कहानी का एक टुकड़ा पोस्ट होगा. जो अपने शहर की कहानी है, आपकी और हमारी कहानी है. चलिए शुरू करते हैं.. “ये लो छू दिए, अब खा लें न?” माँ को बताना ज़रूरी होता था कि दान का चूड़ा-तिल हमने छू लिया है. बस एक स्पर्श से सारे ग्रहों काटने का … Continue reading Journal-e-Jamshedpur | Chapter 1

This movie by the Tata youth will rule the nex-gen, as the trailer convinces.


The steel city of India – Jamshedpur has a pet name Mini Mumbai, as we’ve been knowing. The reason of it being called may relate to the ‘Marine drive’ we have in respective cities or the film hub here. If Mumbai is known for the bollywood film industry, our Tatanagar is known for the short film industry. The young blood of the city contributes to … Continue reading This movie by the Tata youth will rule the nex-gen, as the trailer convinces.

145 सालों का रिकॉर्ड टूटा, लंदन में मना लौहनगरी का लोहा.


ना जाने कितनों ने देखा होगा ‘लंदन ड्रीम्स’ कि लंदन में पढ़-लिख के नाम कमाएंगे. लेकिन अगर लंदन में पढ़ते-लिखते नाम कमा लो क्या बात, नहीं? जमशेदपुर के शौर्य ‘शौर्य विग’ के साथ ऐसा ही कुछ हुआ. शौर्य गए थे लंदन के किंग्स कॉलेज पढ़ने, पर अब अपनी टिपटॉप पर्सनालिटी के बल पर नाम भी कमा बैठे हैं. 145 सालों में पहले भारतीय बन गए … Continue reading 145 सालों का रिकॉर्ड टूटा, लंदन में मना लौहनगरी का लोहा.

This short movie by Tata youth is gonna rule the nex-gen, as the trailer convinces.


The steel city of India – Jamshedpur has a pet name Mini Mumbai, as we’ve been knowing. The reason of it being called that may relate to the ‘Marine drive’ we have in respective cities or the film hub we have. If Mayanagri is known for the bollywood film industry, our Lauhnagri is known for the short film industry. The young blood of the city … Continue reading This short movie by Tata youth is gonna rule the nex-gen, as the trailer convinces.

खुले शेर का विडीओ टाटानगर का नहीं है.


कल परसों से जमशेदपुर में एक विडीओ चल रहा है– शेर का. शेर खुलेआम सड़कों पर है, जो कथित रूप से जमशेदपुर के ज़ू से भागा हुआ शेर है. व्हाट्सैप पर कई लोग इसे फ़ॉरवर्ड कर रहे हैं और कुछ लोग इससे प्रभावित भी हो रहे हैं. विडीओ रात का है, विडीओ बनाने वाले गाड़ी की रोशनी में शेर का पीछा करते हैं. 35 सेकंड … Continue reading खुले शेर का विडीओ टाटानगर का नहीं है.

8 FAQs in Jamshedpur When its Durga Puja :)


India is a land of festivals, we all know this because we have written an essay in all the language exam we appeared in school. And we Jamshedpurians take this to the all new level. Especially when it comes to Durga Pooja, we have all new blood pumping in our bodies! From the clothes bought at sale in the branded showrooms to ‘bhaiya-daam-sahi-lagao’ at Sanjay … Continue reading 8 FAQs in Jamshedpur When its Durga Puja 🙂