लॉक डाउन के साए में पूरा भारत


क्या होता है लॉकडाउन?

लॉकडाउन एक इमर्जेंसी व्यवस्था होती है। अगर किसी क्षेत्र में लॉकडाउन हो जाता है तो उस क्षेत्र के लोगों को घरों से निकलने की अनुमति नहीं होती है। जीवन के लिए आवश्यक चीजों के लिए ही बाहर निकलने की अनुमति होती है। अगर किसी को दवा या अनाज की जरूरत है तो बाहर जा सकता है या फिर अस्पताल और बैंक के काम के लिए अनुमति मिल सकती है। छोटे बच्चों और बुजुर्गों की देखभाल के काम से भी बाहर निकलने की अनुमति मिल सती है।

क्यों करते हैं लॉकडाउन?


किसी तरह के खतरे से इंसान और किसी इलाके को बचाने के लिए लॉकडाउन किया जाता है। जैसे कोरोना के संक्रमण को लेकर कई देशों में किया गया है। कोरोनावायरस का संक्रमण एक-दूसरे इंसान में न हो इसके लिए जरूरी है कि लोग घरों से बाहर कम निकले। बाहर निकलने की स्थिति में संक्रमण का खतरा बढ़ जाएगा। इसलिए कुछ देशों में लॉकडाउन जैसी स्थिति हो गई है।

किन देशों में है लॉकडाउन


चीन, डेनमार्क, अल सलवाडोर, फ्रांस, आयरलैंड, इटली, न्यूजीलैंड, पोलैंड और स्पेन में लॉकडाउन जैसी स्थिति है। चूंकि चीन में ही सबसे पहले कोरोनावायरस संक्रमण का मामला सामने आया था, इसलिए सबसे पहले वहां लॉकडाउन किया गया। इटली में मामला गंभीर होने के बाद वहां के प्रधानमंत्री ने पूरे देश को लॉकडाउन कर दिया। उसके बाद स्पेन और फ्रांस ने भी कोरोना संक्रमण रोकने के लिए यही कदम उठाया।

रिपोर्ट- अम्बाती रोहित

अफवाहों की आग में झुलसने से बचा अपना जमशेदपुर


सोशल मीडिया में फैली अफवाह की TMH में कोरोना ग्रसित मरीज का इलाज चल रहा है जो सरासर गलत साबित हुई, इस खबर का खंडन टाटा स्टील के तरफ से जारी किए गए सर्कुलर में किया गया है

जमशेदपुरटेंमेंट ओर से अपील है कि बिना सोचे समझे कोई भी जानकारी सोशल मीडिया में पोस्ट कर अफवाहों को तूल ना दे जिम्मेदार नागरिक होने परिचय दे

रिपोर्ट- Ambati Rohit

अलर्ट : मार्च में लगातार 6 दिन तक बंद रहेंगे बैंक, निपटा लें जरूरी काम


जमशेदपुर : मार्च में ग्राहकों को बैंकों से संबंधित कामों का निपटारा होली के पूर्व ही करना होगा। जी हां अगर मार्च के शुरुआत में आपके पास बैंक से जुड़ा जरूरी काम है तो उससे जल्द से जल्द निपटा लें। मार्च में होली के त्योहार के पास बैंक सेवाएं लगातार 6 दिन तक ठप रह सकती हैं। हड़ताल और छुट्टियों को लेकर 10 मार्च से 15 मार्च तक बैंकों का काम काज प्रभावित होने की आशंका है।

एटीएम में भी हो सकती केश की किल्लत

इस साल होली पर बैंक लगातार 6 दिन तक बंद रहेंगे। ऐसे में न केवल बैंकों में कामकाज ठप्प रहेगा बल्कि एटीएम में भी केश की किल्लत हो सकती है। हड़ताल और छुट्टियों को लेकर 10 मार्च से 15 मार्च तक बैंकों का काम काज प्रभावित होने की आशंका है। 10 मार्च को होली के त्योहार की वजह से बैंक बंद रहेंगे। इसके अलावा बैंक यूनियनें अपनी मांगों को लेकर 11 से 13 मार्च तक तीन दिन की हड़ताल का आह्वान कर सकती हैं। 14 मार्च को महीने का दूसरा शनिवार है और 15 मार्च को रविवार की छुट्टी रहेगी। इससे पहले 8 मार्च को भी रविवार है।

इससे पहले भी की थी 2 दिनों की हड़ताल जानकारी दें कि इससे पहले भी 31 जनवरी और 1 फरवरी को देशभर के ज्यादातर बैंककर्मी अपनी मांगों को लेकर हड़ताल पर रहे थे। वहीं 2 फरवरी को रविवार होने के कारण बैंक बंद रहेंगे। लगातार तीन दिन बैंक बंद रहने से कामकाज तो प्रभावित हुआ था। वहीं मांगे न माने जाने के कारण बैंक यूनियनें 11 से 13 मार्च तक तीन दिन की हड़ताल का आह्वान कर सकती हैं।

इन तारीखों का रखें ध्यान

10 मार्च को होली की वजह से बैंकों की छुट्टी है। इसके अलावा बैंक यूनियनों ने 11 मार्च से लेकर 13 मार्च तक बैंकों की हड़ताल बुलाई है। अगर ये हड़ताल नहीं टूटती तो 11 से 13 मार्च तक तीन दिनों कर बैंक कर्मचारियों की हड़ताल की वजह से बैंक बंद रहेंगे। वहीं 14 मार्च को महीने का दूसरा शनिवार होने की वजह से बैंक बंद रहेंगे। वहीं 15 मार्च को रविवार की छुट्टी होने की वजह से बैंक बंद रहेंगे। इससे पहले 8 मार्च को बी रविवार के चलते बैंक बंद रहेंगे। मतलब ये कि मार्च के दूसरे हफ्ते में सिर्फ 9 मार्च को बैंक खुले रहेंगे। यानी 10 मार्च से लेकर 15 मार्च कर बैंकों में कामकाज ठप्प रहेगा।

बैंक यूनियन की जानें क्‍या है मांगें

  • सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों के कर्मचारियों की सैलरी हर 5 साल में रिवाइज होती है। जो 2012 के बाद से रिवाइज नहीं हुई है।
  • बैंक के कर्मचारी सैलरी को रिवाइज करके कम से कम 20 फीसदी की बढ़ोतरी की मांग कर रहे हैं।
  • बैंकों में हफ्ते में 5 दिन ही काम हो। बेसिक पे में स्पेशल भत्ते जोड़े जाएं।
  • एनपीएस को खत्म किया जाए।
  • परिवार को मिलने वाली पेंशन में सुधार हो।
  • स्टाफ वेलफेयर फंड का परिचालन लाभ के आधार पर बांटना।
  • रिटायर होने पर मिलने वाले लाभ को आयकर से बाहर किया जाए।
  • कॉन्ट्रेक्ट और बिजनेस कॉरेस्पॉन्डेंट के लिए समान वेतन हो।

वहीं बैंक यूनियनों का कहना है कि अगर उनकी मांग पर मार्च तक कोई फैसला नहीं लिया गया तो बैंक कर्मचारी 1 अप्रैल से अनिश्चितकालीन हड़ताल पर चले जाएंगे। ऐसे में मार्च में होने वाली हड़ताल को अहम माना जा रहा है

रिपोर्ट – अम्बाती रोहित

Mic Check में दिखा जमशेदपुरियंस का जलवा, जमशेदपुर के कई सितारे आसमान छूने को बेकरार


क्या कभी सोचा है आखिर कितने सितारे जमशेदपुर से निकले है और कितने अभी भी जगमगाने के लिए बेसब्र है?

जमशेदपुर के युवाओं ने अपनी प्रतिभा से सभी को आश्चर्यचकित कर दिया, जमशेदपुरटेन्मेंट की पहल Mic Check 1.0 जो कैंडल लाइट बिस्टुपुर में आयोजित हुई जहा 30 से ज़्यादा प्रतिभागियों ने अपना जौहर दिखाया।

श्रेया ने अपने कविता में समाज की सच्चाई कहनी की कोशिश की उन्होंने कहा
याद रखना ये है आज की बात
सोच समझ कर देना
सही और गलत का साथ
हर औरत बेचारी नही
हर मर्द बलात्कारी नही

वही शहर के युवा रैपर सौरभ ने दोस्ती को कुछ यूँ बयां किया
ये दोस्ती भी अजीब है
हर दम साथ रहे ऐसी चीज़ है
हर दम पास रहे ऐसी रीत है
हर दुःख साथ बटे
ऐसी जीत है

साथ ही अन्य प्रतिभागियों ने अपने जौहर दिखाए, और ये कहना गलत नही होगा कि जमशेदपुर से अभी कई और सितारे विश्व पटल पर अपना जौहर बिखरने को बिलकुल तैयार है।

रिपोर्ट-तनवीर अहसन तस्वीरें- गुलशन हांसदा,प्रियंका

indian institute of management CAT Result 2019


CAT Result 2019 – IIM Kozikhode has declared the CAT 2019 result at iimcat.ac.at 11.30 am on January 4, 2020. To check their CAT result 2019, candidates must enter their CAT login id and password on the official website. The result of CAT 2019 contains section-wise scores, total scores and percentile obtained by candidates in the exam. The last date to download the result of CAT 2019 is December 31, 2020. CAT 2019 result will the basis for admissions to MBA and other management programmes to 20 IIMs and more than 1000 BSchools. The validity of CAT result 2019 cum score card is one year.CAT was held on November 24 in two slots in 376 centres across 156 cities.

Click here to download CAT score card

Report- Ambati Rohit

Article source- Carrier360.com

Result & Image Source- INDIAN INSTITUTES OF MANAGEMENT

हैप्पी बर्थडे रतन टाटा


रतन टाटा भारत के एक महान प्रमुख उद्योगपतियों में से हैं | रतन टाटा लाखों करोड़ों लोगों के आदर्श हैं | इन्होंने अपने जीवन में कड़ी मेहनत और संघर्ष से यह मुक़ाम हासिल किया है  इनका जन्म 28 दिसम्बर सन 1937 को सूरत, गुजरात में हुआ था. इनके पिता का नाम नवल टाटा है जो श्री जमशेदजी टाटा के पुत्र थे. रतन टाटा का नाम देश के उन चुनिंदा लोगों में आता है जिन्होंने कारोबार के क्षेत्र में अपार सफलता हासिल की.देश और दुनिया का जानमाना कारोबारी ग्रुप टाटा आज अपने परिचय का मोहताज नहीं है। इस ग्रुप ने देश को एक से बढ़कर एक कारोबारी रतन दिए हैं। उनमें से एक हैं रतन टाटा। आज इनका जन्मदिन है। हालांकि रतन टाटा सक्रिय रूप से टाटा ग्रुप से रिटायर हो चुके हैं, लेकिन उनकी सलाह आज भी इस ग्रुप के लिए बड़ा सहारा है।

रतन टाटा (Ratan Tata) ने अपनी शुरुआती पढ़ाई मुंबई के ‘कैथेड्रल एंड जॉन कॉनन स्कूल’ और माध्यमिक शिक्षा शिमला के ‘बिशप कॉटन स्कूल’ से की है. इसके बाद उन्होंने बी.एससी. (BSc), आर्किटेक्चर में स्ट्रक्चरल इंजीनियरिंग के साथ ‘कॉर्नेल विश्वविद्यालय, न्यूयॉर्क’ से 1962 में पूरा किया. इसके बाद हार्वर्ड बिजनेस स्कूल से 1975 में एडवांस्ड मैनेजमेंट प्रोग्राम पूरा किया.

रतन टाटा का कैरियर

रतन जी ने अपने करियर की शुरुआत 1961 में की, शुरू में इन्होंने शॉप फ्लोर आदि पर वर्क किया. बाद में रतन जी टाटा समूह और ग्रुप के साथ जुड़े थे. 1971 में रतन जी नेल्को कंपनी (रेडियो और इलेक्ट्रॉनिक) में डायरेक्टर पद पर नियुक्त हुए. 1981 में जमशेदजी टाटा ने रतन को टाटा समूह का नया अध्यक्ष बनाया. रतन टाटा के समय टाटा इंड्रस्ट्री ने कई मंजिले पाई, 1998 में पहली बार रतन टाटा के निर्देशन में टाटा मोटर्स ने एक भारतीय कार ” टाटा इंडिका ” को बाजार में उतारा था. इससे टाटा समूह की पहचान धीरे-धीरे बढ़ती चली गयी.

इसके बाद रतन टाटा ने एक छोटी कार टाटा नैनो जो भारत में बनी है मार्केट में उतारी, जो भारत के इतिहास में सबसे सस्ती कार थीं. उसके बाद रतन टाटा ने 2012 में टाटा के सभी प्रमुख पदों से सेवा मुक्त होने की घोषणा की. टाटा अभी चेरीटेबल ट्रस्ट के अध्यक्ष का पद देखते हैं. रतन टाटा ने देश और विदेशों में भी कई संघटनो के साथ भी कार्य किया हैं और अपने बिजनेस को आगे लेकर गए है.

ऐसे लड़ते थे सम्‍मान की लड़ाई

यह बात 1999 की है तब रतन टाटाफोर्ड के मुख्‍यालय डेट्राॅयट गए थे. इस मुलाकात में रतन टाटा अपनी तरफ से टाटा मोटर्स को बेचना चाहते थे. लेकिन इस दौरान फोर्ड मोटर्स के बिल फोर्ड ने रतन टाटा की बेइज्जती करते हुए कहा कि हम तुम पर बहुत बड़ा अहसान कर रहे हैं और तुम्हारा ये टाटा मोटर्स पैसेंजर व्हीकल खरीद रहे हैं. उन्‍होंने रतन टाटज्ञ से कहा कि जब गाड़ी बनानी नही आती तो धंधे में आए क्यों थे.” यह बात रतन टाटा को खटक गई और उन्‍होंने टाटा मोटर्स को बेचने का खयाल छोड़ दिया और वापस मुंबई आ गए. इसके बाद उन्‍होंने कड़ी मेहनत से टाटा मोटर्स को दुनिया की बड़ी कंपनी बना दिया. इस बीच 2009 में बिल फोर्ड की कंपनी घाटे में आ गई और दिवालिया होने के कगार पर पहुँच गई. इस दौरान टाटा ग्रुप ने उनकी कंपनी के खरीदने का एक प्रस्‍ताव दिया. जब फोर्ड की पूरी टीम मुंबई आए तो रतन टाटा ने उनसे कहा कि टाटा मोटर्स ‘जैगुआर’ और ‘लैंड रोवर’ खरीदकर आप पर बहुत बड़ा अहसान कर रहे हैं.”

रिपोर्ट- अम्बाती रोहित

Image source – tata.com, pinterest.com



ताज का फैसला आज – झारखण्ड


जमशेदपुर:- झारखंड विधानसभा की 81 सीटों के लिए पांच चरणों में मतदान 30 नवंबर से 20 दिसंबर तक हुआ था। सभी सीटों के लिए ईवीएम में बंद मतों की गणना कुछ देर में शुरू होगी। 24 जिला मुख्यालयों में गिनती सुबह 8 बजे से ही शुरू हो जाएगी। मतगणना का अधिकतम दौर चतरा में 28 राउंड और सबसे कम दो राउंड चंदनकियारी और तोरपा सीटों पर होगा।

सूबे की सब से चर्चित सीट पर सबकी निगाहें टिकी रहेंगी, वह है जमशेदपुर पूर्वी सीट। मुख्यमंत्री रघुवर दास वर्ष 1995 से यहां से जीतते आ रहे हैं। उनके खिलाफ उनके पूर्व-कैबिनेट सहयोगी सरयू राय मैदान में हैं। राय ने पार्टी से टिकट कटने के बाद बगावत कर मुख्यमंत्री की राह का कांटा बनने का फैसला किया। अन्य महत्वपूर्ण सीटें हैं- दुमका और बरेट, जहां से झारखंड मुक्ति मोर्चा (जेएमएम) के कार्यकारी अध्यक्ष और पूर्व मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन चुनाव लड़ रहे हैं। दुमका में वह समाज कल्याण मंत्री डॉ लुईस मरांडी के खिलाफ मैदान में हैं।

सूबे में बनेगी किसकी सरकार जनादेश 2019 का फैसला 23 दिसंबर को


विधानसभा निर्वाचन 2019 के मद्देनजर मतगणना दिवस 23 दिसंबर की तैयारियों से मीडिया प्रतिनिधियों को अवगत कराने हेतु आज समाहरणालय सभागार में जिला निर्वाचन पदाधिकारी की अध्यक्षता में प्रेस प्रतिनिधियों के साथ बैठक की गई। बैठक में उपस्थित सदस्यों को मतगणना संबंधी तैयारियों की जानकारी देते हुए जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि शांतिपूर्ण एवं सौहार्द्रपूर्ण माहौल में मतगणना संपन्न कराने हेतु सारी तैयारियां पूरी की जा चुकी हैं। मतगणना सहायक, मतगणना माइक्रो ऑब्जर्वर एवं मतगणना पर्यवेक्षक को तीन चरणों में जिला प्रशासन द्वारा प्रशिक्षण दिया जा चुका है। मतगणना हेतु प्रतिनियुक्त कर्मियों का 23 दिसंबर को प्रात: 5 बजे फाइनल रेंडमाइजेशन के पश्चात उनका टेबल निर्धारित किया जाएगा। को-ऑपरेटिव कॉलेज में त्रि-स्तरीय सुरक्षा व्यवस्था की गई है। जिला निर्वाचन पदाधिकारी ने बताया कि 8 बजे काउंटिग शुरू होगी। मतगणना के पश्चात सभी विधानसभा क्षेत्र के 5 वीवीपैट रैंडमली सेलेक्ट किए जाएंगे जिनसे मत का मिलान किया जाएगा।

बैठक में 44-बहरागोड़ा निर्वाची पदाधिकारी ज्योत्सना सिंह, 45-घाटशिला निर्वाची पदाधिकारी अमर कुमार, 46-पोटका निर्वाची पदाधिकारी नंदकिशोर लाल, 47- जुगसलाई निर्वाची पदाधिकारी नवीन कुमार, 48-जमशेदपुर(पूर्वी) निर्वाची पदाधिकारी चंदन कुमार, 49-जमशेदपुर(पश्चिमी) निर्वाची पदाधिकारी सौरव कुमार सिन्हा, जिला उप-निर्वाचन पदाधिकारी कानू राम नाग, जिला जनसंपर्क पदाधिकारी रोहित कुमार तथा अन्य उपस्थित थे।

रिपोर्ट-तनवीर अहसान

दबंग 3 में दिखेंगे टेल्को के राम सिरका


जमशेदपुर:- २० दिसंबर को रिलीज होने वाली सुपर स्टार सलमान खान की फिल्म दबंग 3 में शहर केराम सिरका को भी अभिनय करने का मौका मिला है इस फिल्म में प्रभु देवा , सोनाक्षी सिन्हा के साथ राम ने अभिनय किया

जमशेदपुर से मुंबई तक का सफर आसान नहीं रहा दबंग ३ की ऑडिशन के दरम्यान प्रभु देवा को राम सिरका के एक्टिंग करने का अंदाज़ पसंद आया जिस की बदौलत २०२० में मलायलम भाषा में दूसरी फिल्म रिलीज होने वाली है

प्रभु देवा के साथ काम करना १ सपने को साकार होते देख रहा था राम सिरका को लगा भी की छोटे शहर से आने वाले कलाकार को इतनी बड़ी शोहरत और इज़्ज़त नसीब होगी

रिपोर्ट- अम्बाती रोहित
स्रोत- प्रभात खबर , गूगल

पॉजिटिव न्यूज़ :- एलजीबीटीक्यू कम्युनिटी को बराबर का दर्जा देने वाली पहली कंपनी बनी TATA


जमशेदपुर:- वर्ल्ड की नंबर 1 ब्रांड टाटा ने १ बार फिर से अपने अनोखे पहल से कॉर्पोरेट वर्ल्ड में सुर्खिया बटोरने में आगे रहा एलजीबीटीक्यू कम्युनिटी को में बराबर का दर्जा देने वाली पहली कंपनी बनी
कंपनी ने अपने कॉमन स्टैंडर्ड पालिसी के तहत कंपनी में वर्किंग कल्चर को डेवलप करने की दिशा में एलजीबीटीक्यू कम्युनिटी को भी सामान्य कर्मचारयों की लिस्ट शामिल कर लिया है इस के तहत वो तमाम सुविधाएं मिलेंगे जो १ सामान्य कर्मचारयों मिलती है

क्या सुविधाएं मिलेंगी


1.सभी तरह की मेडिकल सुविधा
2. जॉइंट हाउस पॉइंट
3.चाइल्ड एडॉप्शन लीव
4.टाटा एक्सक्यूटिव हॉलिडे पैकेज

रिपोर्ट – अम्बाती रोहित

स्रोत- आईनेक्सट